Home Aakhir Kyon? चन्द्र छठ: दिव्यता के पर्व की कहानी

चन्द्र छठ: दिव्यता के पर्व की कहानी

2 second read
0
0
438
chandar chath pooja

चन्द्र छठ

चन्द्र छठ भाद्रपद की कृष्ण पक्ष की षष्ठी को हलषष्ठी और चंद्र छठ मनायी जाती है। इसका व्रत कुंवारी लड़कियां रखती हैं। इस ब्रत में खाना-पीना नहीं होता।

%E0%A4%9A%E0%A4%A8%E0%A5%8D%E0%A4%A6%E0%A5%8D%E0%A4%B0 %E0%A4%9B%E0%A4%A0 chandra chhth

चन्द्र छठ का ब्रत कैसे करें

इस ब्रत को करने की विधि इस प्रकार है-एक पटरे पर जल का लोग रखकर उस पर रोली छिड़ककर सात टीके लगाये जाते हैं। एक गिलास में गेहूँ रखे जाते हैं और इसके ऊपर अपनी श्रद्धानुसार रुपये रखते हैं।

हाथ में गेहूँ के सात दाने लेकर कहानी सुनते हैं। इसके बाद चंद्रमा को अर्ध्य देते हें। गेहूँ तथा रुपये ब्राह्मण: को देते हे चन्द्रमा को अर्ध्य देने के बाद लड़कियाँ व्रत का नियम पालन करती है ।
Load More Related Articles
Load More By amitgupta
Load More In Aakhir Kyon?

Leave a Reply

Check Also

What is Master Series Group Master & How to Use in Busy

What is Master Series Group Master & How to Use in Busy Administration > Masters &g…