Home Bio-Graphy Tulsidas- Bio Graphy in Hindi

Tulsidas- Bio Graphy in Hindi

0 second read
0
0
44

तुलसीदास, हिन्दी साहित्य के महान कवि थे, जिन्होंने अपनी महाकाव्य ‘रामचरितमानस’ के माध्यम से हिन्दू धर्म की महाकाव्य ग्रंथ ‘रामायण’ को लोकप्रिय बनाया। उनका जन्म 16वीं शताब्दी के उत्तरी भारत में ग्वालियर जिले के तुलसीपुर गाँव में हुआ था।

तुलसीदास जी का जन्म एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था, लेकिन उनके परिवार वित्तीय स्थिति गरीब थी। उनका असली नाम रमेशदास था, लेकिन उनके उपास्य भगवान श्रीराम के प्रिय भक्त तुलसी बाबा के नाम से उन्हें प्रसिद्ध किया गया।

299967c3dd92d841fd81ec0f8f491db4

तुलसीदास जी का जीवन धार्मिकता, भक्ति और साहित्यकार के रूप में एक महान योगदान के रूप में माना जाता है। उन्होंने भक्तिभाव से भरी रामकथा का अद्वितीय रूप से प्रस्तुतिकरण किया, जिससे लोगों के दिलों में श्रीराम के प्रति भक्ति और प्रेम का उद्गार हुआ।

तुलसीदास जी की भक्ति और साधना ने उन्हें एक आध्यात्मिक गुरु के रूप में प्रसिद्ध किया। उन्होंने अपने जीवन को समर्पित किया और भगवान श्रीराम की भक्ति में अपने आपको लीन किया।

तुलसीदास जी के महाकाव्य ‘रामचरितमानस’ का विशेष महत्व है। इस काव्य में वे भगवान श्रीराम की भक्ति, लीलाएं, और महिमा को उनकी अद्वितीय कला के माध्यम से प्रस्तुत किया। इसके अलावा, उनकी कविताएं, दोहे और गीत भारतीय संस्कृति के एक महत्वपूर्ण हिस्से को बनाए रखते हैं।

तुलसीदास जी की जीवनी से हमें भक्ति, साधना, और सेवा की महत्वपूर्ण शिक्षाएं मिलती हैं। उनका जीवन एक आदर्श है जो हमें भगवान के प्रति प्रेम और भक्ति में समर्पित करने का मार्ग दिखाता है। उनकी भजन और कविताएं आज भी हमें धार्मिक और आध्यात्मिक उद्दीपन प्रदान करती हैं और उनका योगदान साहित्य और धार्मिकता की धारा में अजेय है।

Load More Related Articles
Load More By Niti Aggarwal
Load More In Bio-Graphy

Leave a Reply

Check Also

“प्रशांत किशोर: एक जीवन यात्रा” (Prashant Kishor: Ek Jeevan Yatra)

प्रशांत किशोर, भारतीय राजनीतिक रणनीतिकार और चुनाव प्रबंधक, का जन्म 20 मार्च 1977 को बिहार …